क्या शारीरिक सम्बन्ध बनाने से फैलता है कोरोना? जानिए WHO का जवाब
| Agency - Apr 8 2020 2:20PM

कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर लगातार फैलाई जा रही अफवाह को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने खुलासा किया है। कोरोना लेकर तरह-तरह की अफवाह न फैलाई जाएं। WHO ने कहा कि कोरोना वायरस हवा से नहीं फैलता, यह वायरस नजदीकी शारीरिक संबंध, छींकने या खांसने के बाद हवा में तैरने वाले बूंदों के संपर्क में आने से फैलता है और यह भी बताया कि यह हवा में लंबे समय तक नहीं रहता है। 

WHO ने ये भी बताया कि श्वसन संक्रमण विभिन्न आकारों की सूक्ष्म बूंदों के माध्यम से फैल सकता है। छींक या खांसने से कणों से संक्रमण (ड्रॉपलेट ट्रांसमिशन) तब होता है जब आपका निकट संपर्क उस व्यक्ति के साथ (एक मीटर के भीतर) होता है जिसमें खांसी या छींकने जैसे श्वसन संबंधी लक्षण होते हैं। जिससे ये आपके शरीर में इन सूक्ष्म बूंदों को फैला सकते है और इनका आकार आमतौर पर 5-10 माइक्रोन होता है। 

सरकारी समाचार पत्र ‘चाइना डेली’ ने WHO के प्रकाशन के हवाले से बताया कि संक्रमित व्यक्ति के आसपास के वातावरण में सतहों या वस्तुओं को छूने से भी यह संक्रमण फैल सकता है। इसमें कहा गया है कि हवा में फैलने वाला संक्रमण ‘ड्रॉपलेट ट्रांसमिशन’ से अलग है, क्योंकि यह सूक्ष्म बूंदों के भीतर जीवाणुओं की मौजूदगी को दिखाता है और ये जीवाणु आम तौर पर व्यास में पांच माइक्रोन से कम के छोटे कण के रूप में होते हैं। 



Browse By Tags



Other News