मौसम बहार स्वीट्स के कीड़ायुक्त गोंद लड्डू ने मिठाई शौकीनों के खड़े किये कान
| - RN. Network - May 27 2020 6:27PM
  • मिठाई की दुकानों पर बिक रही हैं कीड़ायुक्त, बासी, अखाद्य, प्रदूषित मिठाइयाँ
  • खाद्य सुरक्षा महकमा प्रवासी मजदूरों के आगमन पर ट्रेन ड्यूटी में व्यस्त

इस समय कोविड-19 से बचाव के लिए देश में लाकडाउन-04 चल रहा है, और सशर्त लगभग सभी गतिविधियाँ शुरू हो गई हैं। जिला प्रशासन द्वारा दिये गये आदेश के चलते 2 माह का सन्नाटा चहल-पहल में बदलने लगा है। पूर्व की तरह खाने-पीने एवं जलपान, मिठाई की दुकानों पर भीड़ दिखने लगी है, परन्तु कतिपय मिठाई की दुकानों पर काफी पुरानी एवं बासी प्रदूषित एवं अखाद्य मिठाइयों के बिकने की खबर ने जन मानस को चिन्ताग्रस्त कर दिया है। 

बीते दिवस अम्बेडकरनगर के मुख्यालयी शहर अकबरपुर से सटे जुड़वा उपनगर शहजादपुर स्थित मौसम बहार स्वीट्स नामक बड़ी एवं चर्चित मिठाई की दुकान पर बिकने वाले गोंद का लड्डू में कीड़ा मिलने वाला वीडियो और सम्बन्धित समाचार वायरल हुआ था। इस वायरल खबर से जिले में मिठाई खाने के शौकीन लोगों में हड़कम्प मच गया है। 

रेनबोन्यूज ने मौसम बहार स्वीट्स के स्वामी/साझीदार संजय कुमार तथा ग्राहक दवा व्यवसाई पंकज सिंह (वीडिया वायरलकर्ता) के पक्षों को प्रकाशित किया था और जन स्वास्थ्य के दृष्टिगत जिला प्रशासन व खाद्य सुरक्षा महकमा का ध्यान आकृष्ट कराया था। रेनबोन्यूज ने उक्त आशय की खबर प्रकाशित होने के उपरान्त मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी के.के. उपाध्याय ने व्हाट्सएप्प के जरिये बताया कि-गोंद लड्डू खाद्य सुरक्षा अधिकारी अकबरपुर ने जाँच हेतु भेजा। 

इसी तरह अभिहीत अधिकारी राजवंश श्रीवास्तव ने लिखा कि- सैम्पल ले लिया गया है, यानि गोंद के लड्डू का नमूना संकलित कर लिया गया है। विस्तार से उन्होंने लिखा कि मौसम बहार से शिकायत मिलते ही त्वरित कार्रवाई करते हुए टीम बनाकर समस्त मिठाई की जाँच की गई, उसके बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारी अखिलेश कुमार मौर्य के द्वारा गोंद के लड्डू का नमूना लिया गया। इस जाँच टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अखिलेश मौर्या और एस.के. पाण्डेय रहे। यह तो रही खाद्य सुरक्षा महकमे के मुखिया और अभिहीत अधिकारी की बात। 

यहाँ तो लाकडाउन-04 में बिकने वाली बासी अखाद्य एवं प्रदूषित मिठाइयों से होने वाले संक्रमण और रोगों के भय से लोगों में दहशत व्याप्त है। एक तरफ तो लोग कोरोना वायरस से डरे हुए हैं तो दूसरी तरफ मौसम बहार स्वीट्स के कीड़ा युक्त गोंद का लड्डू खबर वायरल होने से और भी भयभीत हो गये हैं। रेनबोन्यूज ने लिखा था कि- जनस्वास्थ्य के दृष्टिगत खाद्य सुरक्षा विभाग के सभी जिम्मेदारों को निष्ठापूर्वक तत्परता से मिठाई एवं खाद्य पदार्थों की बिक्री व निर्माण स्थलों की जाँच करनी चाहिए। परन्तु इस समय प्रवासी मजदूूरों को लेकर आ रही स्पेशल ट्रेनों के आगमन पर उनके खान-पान एवं अन्य व्यवस्था में जुटे होने की वजह से यह कार्य नहीं हो पा रहा है। आज पूरे दिन मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी और खाद्य सुरक्षा अधिकारी तथा अभिहीत अधिकारी के मोबाइल फोन व्यस्त या नॉट रिस्पॉडिंग बताते रहे।

हालांकि बीच में सी.एफ.एस.ओ. के.के. उपाध्याय ने कहा कि सॉरी हम लोग ट्रेन ड्यूटी में हैं। ठीक इसी तरह एक अन्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि इस समय प्रवासी मजदूरों के आगमन पर व्यस्तता बढ़ गई है। एफ.एस.ओ. अकबरपुर अखिलेश कुमार मौर्या और एफ.एस.ओ. एस.के. पाण्डेय से प्रयास के बावजूद वार्ता सम्भव नहीं हो पाई। डी.ओ. राजवंश श्रीवास्तव व एफ.एस.ओ. अखिलेश मौर्या द्वारा फोन कॉल रिसीव ही नहीं की जा रही है। शायद ये अधिकारी स्पेशल ड्यूटी में रेलवे स्टेशन या फिर एकलव्य स्टेडियम अथवा लोहिया भवन स्थित कोरंटाइन सेन्टर में खान-पान व्यवस्था देख रहे होंगे। 

रेनबोन्यूज जनहित और जनस्वास्थ्य को सर्वोच्च रखते हुए कोविड-19 और लाकडाउन-04 की स्थिति में जिला प्रशासन और खाद्य सुरक्षा महकमा के जिम्मेदार पदाधिकारी से अपेक्षा करता है कि नित्य-नियमित जिले की समस्त खाद्य, जलपान गृह और मिठाई की दुकानों की जाँच की जाये। लोगों में व्याप्त भ्रम की स्थिति समाप्त हो, यह भ्रम तभी दूर होगा जब जन स्वास्थ्य से सरोकार रखने वाले लोग एवं जिम्मेदार महकमा अपने ड्यूटी कर्तव्यनिष्ठा के साथ करेगा। पुनश्च- पूरी उम्मीद है कि लोगों में 60 दिन पुरानी या अखाद्य, प्रदूषित, कीड़ायुक्त मिठाइयाँ वह भी महंगे दामों पर खरीदने से मुक्ति पायेंगे लोग जब जिला प्रशासन और खाद्य सुरक्षा महकमा हो जायेगा सक्रिय। 
 



Browse By Tags



Other News