हैपी बर्थडे 'बैडमैन' : घर-घर जाकर बर्तन बेच की पढ़ाई, कई बार भूखे पेट सोए
| Agency - Sep 22 2020 4:15PM

संघर्षों से जीतकर बॉलीवुड के 'बैडमैन' बने गुलशन ग्रोवर

जब पुरानी फिल्मों के विलेन की बात होती है तो गुलशन ग्रोवर का नंबर टॉप-5 में आता है। फिल्मों में अपनी नकारात्मक भूमिकाओं की वजह से ही वह बॉलीवुड के 'बैडमैन' बन गए। 21 सितंबर को गुलशन अपना 65वां जन्मदिन मना रहे हैं। यहां हम बता रहे हैं उनसे जुड़ी कुछ खास बातें....

गुलशन ग्रोवर का जन्म 21 सितंबर 1955 को दिल्ली के एक मध्यमवर्गीय पंजाबी परिवार में हुआ। शुरुआती पढ़ाई करने के बाद उन्होंने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज से ग्रेजुएशन की। 80 के दशक के आखिरी वर्षों में वह मुंबई की ओर निकले और कभी वापस पलटकर नहीं देखा। गुलशन ग्रोवर का बचपन संघर्षों की एक कहानी है। गरीबी के कारण उन्होंने बहुत परेशानियां झेलीं।

बीबीसी को दिए गए एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि स्कूल फी भरने के लिए वे बचपन में बड़ी कोठियों और हवेलियों में जाकर बर्तन, डिटर्जेंट पाउडर, फिनाइल की गोलियां बेचते थे। लोग उनसे खरीद भी लेते थे क्योंकि वे भी चाहते थे कि गुलशन अपनी पढ़ाई पूरी करें। यूं तो गुलशन ग्रोवर ने अपने करियर की शुरुआत साल 1980 में आई हिंदी फिल्म 'हम पांच' से की थी लेकिन उन्हें असली पहचान 'सदमा', 'अवतार' फिल्म से मिली। हालांकि गुलशन इस बारे में कहते हैं कि मेरी पहली फिल्म 'हम पांच' नहीं बल्कि 'रॉकी' थी। इसकी शूटिंग पहले शुरू हुई थी।

'हम पांच' फिल्म में उनके साथ मिथुन चक्रवर्ती, नसीरुद्दीन शाह, राज बब्बर और अमरीश पुरी जैसे सितारों ने रोल किया। उनके जीवन पर आधारित एक किताब 'बैडमैन' आई। इसे रोशमिला भट्टाचार्य ने लिखा है। इस किताब में गुलशन की जिंदगी से जुड़े संघर्षों और कुछ अनदेखे पहलुओं के बारे में बताया गया है। इसी में बताया गया है कि बचपन के दिनों में उनके पास खाने के पैसे नहीं थे। कई रातें वे भूखे सोए हैं।

गुलशन ग्रोवर ने 400 से अधिक फिल्मों में काम किया है। सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं, वे हॉलीवुड की भी कई फिल्मों में काम कर चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने कई किरदारों को अपनी आवाज भी दी है। गुलशन ग्रोवर ने हिंदी के अलावा अंग्रेजी, तमिल, तेलुगु, मराठी और पंजाबी फिल्मों में भी किया काम किया। गुलशन ग्रोवर भारत के उन चुनिंदा एक्टर्स में से हैं जिन्होंने केवल देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी अपने टैलेंट के झंडे गाड़े हैं।

साल 1997 में आई 'द सेकेंड जंगल बुक: मोगली एंड बल्लू' उनकी पहली हॉलीवुड फिल्म थी। वे कई विदेशी फिल्मों के हिंदी संस्करण में भी अपनी आवाज दे चुके हैं। 65 साल की उम्र होने के बाद भी गुलशन ग्रोवर काफी एक्टिव हैं। हाल ही में वे महेश भट्ट की फिल्म सड़क-2 में नजर आए थे। अब वे अपनी आने वाली फिल्म 'सूर्यवंशी' के काम में लगे हुए हैं। इस फिल्म में उनके साथ अक्षय कुमार, अजय देवगन और रणवीर सिंह नजर आएंगे। फिल्म के डायरेक्टर रोहित शेट्टी हैं। 



Browse By Tags



Other News