निवार साइक्लोन की वजह से इन इलाकों में भारी बारिश की आशंका, जारी हुआ हाईअलर्ट
| Agency - Nov 25 2020 5:12PM

कोरोना महामारी के बीच दक्षिण भारत में एक नई आफत की एंट्री हो रही है। आज शाम तमिलनाडु के समुद्री तट से 'निवार' चक्रवाती तूफान टकराएगा। इस दौरान तेज हवाएं तो चलेंगी ही, साथ ही बारिश का भी कहर देखने को मिल सकता है। जिसको लेकर मौसम विभाग ने हाईअलर्ट जारी कर दिया है। वहीं प्रशासन की ओर से सभी को सुरक्षित स्थान पर रहने की सलाह दी जा रही है। तमिलनाडु के अलावा भी कई राज्यों में इस तूफान का असर देखने को मिलेगा।

इन जगहों पर बहुत ज्यादा भारी बारिश चेन्नई स्थित एमईटी विभाग के मुताबिक तमिलनाडु के वेल्लोर, रानीपेट, तिरुवल्लुर, तिरुपट्टूर, कृष्णागिरि, तिरुचिरापल्ली, सलेम और धर्मपुरी जिलों में भारी बारिश की संभावना है। इसके अलावा तंजावुर, तिरुवूर, नागापट्टिनम, कुड्डलोर, चेन्नई, कांचीपुरम, चेंगलपट्टू, मायलादुथिराई, अरियालुर, पेरम्बलुर, कल्लूराची, विल्लुपुरम, तिरुवन्नमलाई और पुडुचेरी में बहुत ज्यादा भारी बारिश की आशंका व्यक्त की गई है। तूफान के चलते सभी जिलों में प्रशासन को बचाव दल को तैयार रखने के लिए कहा गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पश्चिम और निकटवर्ती दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर दबाव का क्षेत्र 11 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम-उत्तर पश्चिमी दिशा की ओर बढ़ा। अब 24 घंटों के दौरान बंगाल की खाड़ी में बना लो प्रेशर एरिया 'चक्रवाती तूफान' में बदल जाएगा जोकि आज तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों से टकराएगा। तमिलनाडु के साथ ही आंध्र प्रदेश, केरल, तेलंगाना के मौसम को भी ये तूफान प्रभावित करेगा।

निवार तूफान जब तट से टकराएगा तो हवा की रफ्तार 100-120 किलोमीटर प्रतिघंटे रहने की उम्मीद है। जिस वजह से मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा सात जिलों में बस सेवा को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है। वहीं कई इलाकों में आंशिक, तो कई जगहों पर पूर्ण रूप से ट्रेन सेवा रोक दी गई है। तूफान को देखते हुए एनडीआरएफ की टीमें भी स्टैंडबाई पर हैं।



Browse By Tags



Other News