रोजगार में लग गए हैैं बेरोजगार!
| -RN. Feature Desk - Feb 25 2021 4:34PM

-रामविलास जांगिड़

सरकारी नौकरी के लिए फार्म भरना। डेट का आगे खिसकना। फिर से फार्म अपडेट करना। फार्म भरने की बात का कोर्ट में चले जाना। कोर्ट द्वारा संशोधित विज्ञप्ति आने का इंतजार करते रहना। संशोधित विज्ञप्ति के आने पर फिर से फार्म भरना। पुनः संशोधित करवाना। सिलेबस देखते फिरना। सिलेबस में संशोधन हो जाना। परीक्षा की डेट पूछते फिरना। परीक्षा की डेट आ जाना। परीक्षा डेट का आगे खिसकना। फिर परीक्षा डेट का इंतजार करना। फिर परीक्षा की डेट का आगे खिसक जाना।

डेट के बार-बार आगे खिसकने की प्रक्रिया जारी रहना। इस बीच पढ़ना भूल जाना। फिर कभी परीक्षा आयोजित होना। परीक्षा सेंटर दूर आने पर मारामारी करना। परीक्षा के लिए 5 दिन पहले परीक्षा देने जाना। परीक्षा के लिए पचासों तरह की जांचें करवाना। परीक्षा दे आना। परीक्षा होते ही प्रश्न पत्र आउट हो जाना। परीक्षा लेने वालोंं द्वारा पेपर आउट न मानना। शेष दुनिया द्वारा पेपर को आउट मान लेना। पेपर आउट हुआ या नहीं; इसके लिए कोर्ट में केस चलना।

यह दलील! वह दलील! महिनों बाद कोर्ट द्वारा निर्णय किया जाना। पेपर को आउट हुआ मान लेना। फिर से परीक्षा के लिए तारीख का इंतजार करना। इस बीच नए आवेदन मांगने के लिए किसी के द्वारा कोर्ट में रिट याचिका लगा देना। रिट याचिका की सुनवाई होने के कारण परीक्षा का आयोजन‌ न होना। रिट याचिका के अनुसार फिर से आवेदन आमंत्रित करना। परीक्षा के लिए आवेदन करना। फिर आवेदन में आवश्यक संशोधन करना। फिर से किसी से कोर्ट द्वारा सीटों के बंटवारे को लेकर याचिका दायर करना। उन्हें तारीख!

पुनः तारीख! परीक्षा का कोई अता-पता ना होना। परीक्षा के लिए फिर से इंतजार करना। अब फिर परीक्षा का हो जाना। पांच साल पहले आई वैकेंसी की अब परीक्षा हो जाना। फिर से पेपर आउट होने का हल्ला मचना। फिर से परीक्षा आयोजक के द्वारा पेपर आउट होने की बातें फर्जी मानना। इस बार तकदीर से पेपर आउट हुआ नहीं माना जाना। परीक्षा परिणाम का इंतजार जारी है। रोज टीवी, अखबार, सोशल मीडिया खंगालते रहना। कब परीक्षा का रिजल्ट आएगा? चौबीसों घंटे इसी प्रश्न में उलझे रहना।

सालों बाद फिर परीक्षा का रिजल्ट आना। जाने कौन पास! जाने कौन फेल! अब फिर परीक्षा रिजल्ट को कोर्ट में चैलेंज! प्रश्नों के उत्तर सही नहीं जांचे गए। एक्सपर्ट को बुलावा भेजा। एक्सपर्ट दल ने एक ही प्रश्न के 5-5 उत्तर बताए। कोर्ट-परीक्षार्थी सब चक्कर खाए! सरकारी नौकरी का तिलिस्म समझ में ना आए! एक प्रश्न, चार विकल्प और एक्सपर्ट 5 उत्तर बताए! फिर कोर्ट बाजी!

फिर 2 साल गायब! परीक्षा परिणाम का संशोधन रिजल्ट जारी! फिर आरोप-प्रत्यारोप! फिर से संशोधन का संशोधन रिजल्ट जारी! संशोधन दर संशोधन! रिजल्ट का इंतजार! कोई नहीं रहा बेरोजगार! हर एक को धंधा मिल गया है। परीक्षा के फार्म डालने से लेकर रिजल्ट आने तक! अब न नौकरी का सवाल, न जरूरत! रोजगार में लग गए, लाखों बेरोजगार! अब कोई बेरोजगार नहीं रहा!



Browse By Tags



Other News