पूर्व क्रिकेटर यशपाल शर्मा का हार्ट अटैक से निधन
| Agency - Jul 13 2021 1:31PM

भारत के पूर्व क्रिकेटर यशपाल शर्मा का दिल का दौरा पड़ने के चलते आज (मंगलवार) निधन हो गया है। यशपाल शर्मा भारत की 1983 वर्ल्ड जीत के सदस्य थे। उनका क्रिकेट करियर 70 और 80 के दशक चला। पंजाब के 66 साल के पूर्व क्रिकेटर को एक गिफ्टिड खिलाड़ी कहा जाता था। उनका निधन आज सुबह हुआ है। हाल ही में यशपाल शर्मा ने बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता दिलीप कुमार को याद किया था और बताया था वे उन्हीं की वजह से नेशनल लेवल तक खेल पाए।

उन्होंने दिलीप कुमार को अपने पिता समान बताया था जिन्होंने वास्तव में उनका जीवन बदल दिया। शर्मा ने वनडे और टेस्ट दोनों प्रारूपों में भारत के लिए पदार्पण किया। शर्मा टीम इंडिया के लिए एक नियमित मध्य क्रम के बल्लेबाज बने और कपिल देव की 1983 विश्व कप विजेता टीम के नायकों में से एक के रूप में उभरे। शर्मा ने 37 टेस्ट और 42 वनडे खेले, जिसमें उन्होंने क्रमश: 1606 और 883 रन बनाए और उनका औसत 33.5 और 28.8 का रहा।

वनडे क्रिकेट में उनका डेब्यू पाकिस्तान के खिलाफ हुआ था। यशपाल ने दिलीप साहब की मौत के बाद खुलासा किया था कि एक बार दिग्गज अभिनेता उनका मैच देखने आए थे। तब यशपाल ने 1974-75 के घरेलू सीजन के दौरान पंजाब की ओर से खेलते हुए उत्तर प्रदेश के खिलाफ दोनों पारियों में शतक लगाया था। दिलीप कुमार ने तब यशपाल का नाम क्रिकेट प्रशासक राजसिंह डूंगरपुर को रिकमेंड किया था। पूर्व अभिनेता का मानना था कि ऐसे खिलाड़ी को भारत की ओर से खेलना चाहिए।

इस घटना के बाद से यशपाल का करियर बदल गया था। यशपाल शर्मा 1979 से लेकर 1983 तक भारतीय टीम के मध्य क्रम में बहुत अहम रहे। उन्होंने भारतीय टीम के चयनकर्ता के तौर पर भी काम किया। रणजी में उन्होंने हरियाणा और रेलवे सहित तीन टीमों का प्रतिनिधित्व किया। यहां यशपाल ने 8,933 रन बनाते हुए 160 मैच खेले जिसमें उच्चतम स्कोर 201 रहा जबकि 21 शतक लगाए। यशपाल हाल के समय तक क्रिकेट विशेषज्ञ के तौर पर नजर आते थे।



Browse By Tags



Other News