घर के बाथरूम में जहरीला सांप निकलनेेे से परिवार में दहशत
| -Satyam Singh - Sep 17 2021 3:41AM
  • अकबपुर के युुवा सपेरा सूरज गुप्ता ने रसेल वाइपर सांप को पकड़कर भयाक्र्रान्त लोगों को दी राहत
  • सूूरज गुुप्ता ने अबतक हजारोें विषैले जन्तुओे को पकड़कर सुरक्षित स्थानों पर छोड़ा है

 

रिपोर्ट:- सत्यम सिंह

अम्बेेडकरनगर। अकबरपुर नगर पालिका के वार्ड नम्बर 4 गौसपुुर निवासी अरविन्द मौर्य केे परिवार में शुक्रवार 17 सितम्बर की प्रातः उस समय हड़कम्प मच गया जब परिवार केे सदस्य सुबह नहानेे केे लिए बाथरूम का उपयोग करना चाहा। उन्होंने बाथरूम केे एक कोनेे में जहरीला सांप देेखा। सांप देेखतेे ही परिवारिक सदस्यों मेें भय व्याप्त होे गया और अफरा तफरी मच गई। बाद मेें अकबरपुुर नगर के एक युवा सपेेरेे ने उक्त जहरीले सांप को पकड़कर अपने कब्जेे में कर लिया और सांप केे भय सेे भयभीत परिजनों को राहत प्र्रदान किया।

मामला कुछ इस प्रकार है गौसपुर निवासी अरविन्द के परिवारीजन शुक्रवार की प्रातः दैनिक क्रिया केे तहत घर के बाथरूम का इस्तेेमाल करनेे के लिए जैसे ही उसका दरवाजा खोेला बाथरूम केे कोेनेे मेें एक लम्बा सांप कुंडली  मारेे बैठा दिखा सांप देखकर परिवार की पुत्री सोेनम नेे अपनेे परिजनों को आवाज लगाई अनहोनी की घटना सेे परिवार केे सभी सदस्य सहम गए और बाथरूम तक पहुंचेे वहां का नजारा देेखकर सभी की चीखे निकल गई। इसी बीच सोेनम केे बड़े भाई संजय मौर्य पत्रकार नेे दूूरभाष से अकबरपुुर बसस्टेशन निवासी युुवा सपेेरा/सक्र्रिय समाजसेवी सूरज गुप्ता कोे अपनेे यहां सांप निकलनेे की जानकारी दिया सूचना मिलतेे ही तत्काल पहुंचकर सूूरज गुप्ता नेे अपनी तकनीक से जहरीलेे सांप को अपने बस में किया। सूरज गुप्ता नेे बताया कि उक्त सांप रसेल वाइपर प्रजाति का है जो कोबरा से भी अधिक विषैला होेता है। 

युुवा सपेेरा सूरज गुप्ता के बारे मेंः-

 

स्नैक मास्टर नाम से पुकारे जाने वाले 25 वर्षीय सूरज गुुप्ता गुुप्ता एक युवा व्यवसायी है बस स्टेेशन अकबरपुुर के निवासी है। इनके पिता स्व. राजकुमार गुप्ता होेटल व्यवसायी एक सिद्धहस्त व शौकिया सपेरा रहें।ं एक दशक पूूर्व राज कुुमार गुप्ता की मृत्यु हो गई थी तब उनके पुत्र सूूरज का बचपना था इन्होंने विषधर पकड़ने की कला अपनेे मरहूम पिता राजकुमार गुप्ता सेे विरासत में प्राप्त किया। कहना नहीं होगा कि राजकुमार उर्फ पप्पूू गुप्ता द्वारा सिखाई गई सांप एवं हर प्रकार के विषधर पकड़नेे की कला को सूरज गुप्ता नेे समाजहित में अपना शौक व कैरियर बना रखा है। 

सूरज गुुप्ता युवा स्नैक मास्टर/सोशल एक्टीविष्ट ने विगत दस सालांेे में अनगिनत विषधर व विषैले जन्तुओ का पकड़कर उनकोेे यथा उपयुक्त आबादी सेे दूर स्थित स्थानों पर जीवित छोड़ा है। उनके इस कार्य से मानव जाति का कल्याण तो होता ही है साथ ही पर्यावरण सन्तुलन के दृष्टिगत छोटेे-छोटे जीव जन्तुओ का जीवन कितना अनमोल है यह बात सबकी जेहन में जाती है। लोकप्र्रिय समाजसेवी व युवा सपेेरा सूरज गुुप्ता अपनेे इस कार्य कोे बड़ा पुनीत कहतेे है इनका कहना है कि जिस किसी कोे विषधर व विषैले जीव जन्तुुओ का पता चले तो उन्हें उनके मोबाइल 9161615550 नम्बर पर सूचित कर मदद ली जा सकती है।



Browse By Tags



Other News