परिवर्तित (मॉडिफाइड) साइलेंसर लगवाने पर हो सकती है जेल व जुर्माना
| -Satyam Singh - Oct 28 2021 1:50AM

रिपोर्ट:- सत्यम सिंह

अंबेडकरनगर। अब मोटर साइकिलों में मानक से अधिक तीव्र ध्वनि का साइलेंसर लगवाने वालों की खैर नहीं। पकड़े जाने पर जुर्माना व जेल दोनों हो सकती है, इस तरह का आदेश इलाहाबाद उच्च न्यायालय(लखनऊ खंडपीठ) ने देते हुए कहा है कि बुलेट मोटरसाइकिल ध्वनि तीव्रता का मानक 80 डेसिबल है। इससे अधिक की ध्वनि निकालने अथवा परिवर्तित(मॉडिफाई) किये गये साइलेंसर का उपयोग करने वाले मालिकों/चालकों के विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी। उक्त जानकारी परिवहल महकमे के ए0आर0टी0ओ0 वी0डी0 मिश्र ने दी। 

ए0आर0टी0ओ0 वी0डी0 मिश्र के अनुसार, माननीय उच्च न्यायालय के आदेश दिनांक 20/07/2021 के अनुपालन में आम जनमानस को सूचित किया जाता है कि वे अपने दुपहिया मोटरयानों विशेषतया बुलेट मोटरसाइकिल पर परिवर्तित साइलेंसर न लगायें।

मा० उच्च न्यायालय, इलाहाबाद खण्डपीठ, लखनऊ के समक्ष योजित जनहित याचिका संख्या 15385/2021 में मा0उच्च न्यायालय द्वारा आदेश दिनांक 20.07.2021 के क्रम में ध्वनि निकलने पर दुपहिया मोटरयानों विशेषतया बुलेट मोटर साइकिल के स्वामियों/चालकों द्वारा साइलेंसर को इस प्रकार परिवर्तित करने पर कि उसमें निर्धारित ध्वनि मानक 80 डेसीबल से अधिक ध्वनि निकलने पर संख्त कार्यवाही करने के आदेश पारित किए गये हैं।

एतदद्वारा मा० उच्च न्यायालय, के आदेश दिनांक 20.07.2021 के अनुपालन में आम जनमानस को सूचित किया जाता है कि वे अपने दुपहिया मोटरयानों विशेषतया बुलेट मोटर साइकिल पर परिवर्तित साइलेंसर न लगायें यदि परिवर्तित (मॉडिफाइड) साइलेंसर लगा पाया जाता है तो Motor Vehicle Act,1988/Noise Pollution (Regulation and Contral) Rules, 2000/Central Motor Vehicle Rules, 1989/Relevant provisions of Cr.P.C./Indian Penal Code/Environment Protection Act, 1986 read with Environment Pollution Rules, 1986 and various judgements pronounced by Hon'ble Constitutional Courts. के अन्तर्गत मोटरयान अधिनियम की धारा-190 (2) के अन्तर्गत "जो कोई व्यक्ति किसी सार्वजनिक स्थान में कोई मोटरयान ऐसे चलायेगा या चलवायेगा या चलाने देगा, जिसमें सड़क सुरक्षा, शोध नियंत्रण और वायु प्रदूषण के सम्बन्ध में विहित मानकों का उल्लंघन होता है, तो वह प्रथम अपराध के लिए ऐसे कारावास, जिसकी अवधि 03 माह तक हो सकेगी या ऐसे जुर्माने से जो 10 हजार रुपये तक हो सकेगा या दोनों से और वह तीन माह की अवधि के लिए चालक अनुज्ञप्ति धारण करने के लिए अयोग्य हो जायेगा तथा किसी द्वितीय या पश्चातवर्ती अपराध के लिए ऐसे कारावास जिसकी अवधि 06 माह तक हो सकेगी या ऐसे जुर्माने से जो 10 हजार तक हो सकेगा या दोनों से दण्डनीय होगा "दण्ड दिया जायेगा साथ ही माननीय न्यायालय के आदेशों के अवमानना पर अतिरिक्त कार्यवाही की जायेगी।

ए0आर0टी0ओ0 ने आम जनमानस को  सूचित किया है कि यदि वह दुपहिया मोटरयानों विशेषतया बुलेट मोटर साइकिल पर परिवर्तित (मॉडिफाइड) साइलेंसर लगाये हैं तो तत्काल उसको निकलवा दें साथ ही पडिया मोटरयानों विशेषतया बुलेट मोटर साइकिल पर परिवर्तित (मॉडिफाइड) साइलेंसर के विक्रेता/लगाने वाले गैराज पर भी कार्यवाही की जायेगी।

 



Browse By Tags



Other News