नोएडा के डीएम सुहास एलवाई को चार करोड़ नगद व पांच वेतन वृद्धि योगी सरकार ने दिया: इमानदारी का तोहफा
| - Rainbow News Network - Nov 12 2021 6:03AM

नोएडा। बैडमिंटन खिलाड़ी और गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई को के नाम रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड हो रहे हैं। उन्हें सरकार ने गुरुवार को नियमों में संशोधन कर एक साथ पांच वेतन वृद्धि देने के साथ चार करोड़ रुपये नगद दिए हैं। पूरे देश में पहली बार है जब किसी आईएएस अधिकारी को इस तरह से पांच वेतन वृद्धि दी गई है। इसके अलावा वह देश के पहले ऐसे आईएएस अधिकारी हैं जिन्होंने पैरा ओलंपिक में बैंडमिंटन में रजत पदक जीता है। उन्हें अर्जुन पुरस्कार देने की घोषणा भी हो चुकी है। 

जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने कहा कि जो उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था वह सम्मान उन्हें मिल रहा है। यह वर्ष 2021 उनके लिए यादगार बन गया हैए जिसने उन्हें एक अलग पहचान दी है। इस साल में उन्हें उनके खेल ने वह सब कुछ दियाए जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। उन्हें पूरे देश से सम्मान मिला है। वह अपनी इस उपलब्धि को अपने शौक और लगन की जीत बताते हैं। उन्होंने युवाओं से कहा कि वह अपने शौक को हमेशा जिंदा रखें और उसके लिए समय निकालें और कभी भी अपने आत्मविश्वास को खत्म ना होने दें। इससे आप इतिहास रच सकते हैं।  

कर्नाटक के शिमोगा में जन्मे सुहास एलवाई जन्म से ही दिव्यांग हैं। उन्होंने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी से कंप्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग की। इसके बाद 2005 में उन्होंने सिविल सर्विस की परीक्षा दी और सफलता हासिल की। सिविल सेवा में उत्तर प्रदेश कैडर मिलने के बाद पहली पोस्टिंग आगरा में हुई। इसके बाद जौनपुर सोनभद्र आजमगढ़ हाथरस महाराजगंज प्रयागराज और गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी बने। 



Browse By Tags



Other News