मानविता मिडिया दवारा लाल बिहारी लाल सम्मानित
| -RN. Feature Desk - Dec 14 2021 3:08AM

सुरमयी शाम में गायको ने बांधा समां, श्रोताओं ने लगाई सुरो की गंगा में डूबकी

नई दिल्ली। मानविता मिडिया दवारा रुत है सुहानी समां मस्तानी भाग-2 का आयोजन सुर ऋतु स्टूडियों, द्वारका सेक्टर -19  में किया गया जिसमें दर्जनों गायक गायिकाओं ने हिस्सा लिया और अपनी सुरों की गंगा में श्रोताओं को डूबकी लगाने को विवश किया। इस कार्यक्रम की शुरुआत पं संजय शर्मा की सरस्वती वंदना के मत्रोच्चारण से हुई। इसके बाद गीतो के गुलदस्ता की शुरुआत  राहुल पाठक की सुरमई आवाज में  तुमसे मिलने की तमन्ना है से हुई। इसे परवान दिया डिम्पल सहगल ने टिप-टिप बरसे पानी और जादू है नशा है, एम.पी. सुमन ने यादो की बारात निकली है से इसे और उचाई प्रदान की।

कविता पांडे ने हमें औऱ जीने की चाहत न होती अगर तुम न होते। डा. आर के सचदेवा ने तारो में सज के सुरज को बुलाया वही संगीता ने कहा चुपके से......जबकि के.के. रावल शील ने मैं जट पगला दीवाना हो रब्बा.... से महफिल को नाचने पर मजबूर कर दिया।  ,डा. विवेक कुमार ने कहा की सोचेगे तुम्हें प्यार करे की नहीं। इसके अलावे, श्री सतपाल, श्री सुरताज, भब्या, सिमरन कपुर, राजकोचर, मधुकोचर एंव प्रमोद अग्रवाल, कु.मानविता आदि ने अपनी प्रस्तुति दी। राहुल पाठक को सर्वश्रेष्ठ गायन का खिताब दिया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पं.  संजय मिश्रा, अशोक गुप्ता, शालिनि निगम थे।  

इस अवसर पर पत्रकार एंव गीतकार लाल बिहारी लाल को मानविता मिडिया प्रा. लि.  की ओऱ से कमलेश वरुण एवं कविता पांडे द्वारा सम्मनित किया गय। लाल बिहारी लाल ने इस कंपनी के लिए छठ गीत लिखा था जिसे सुरो से सजाया था कमलेश वरुण ने। बहुत जल्द ही इस कंपनी से श्याम एंव कृष्ण  भजन आने वाले है। कल्पना मिश्रा एंव राघव को भी सम्मानित किया गया। अंत में कार्यक्रम के संयोजक मनीष पांडे ने सभी को धन्यवाद दिया।

-सोनू गुप्ता



Browse By Tags



Other News