13 हजार से अधिक पंचायत प्रतिनिधियों का बढ़ेगा मानदेय व भत्ता
| - Rainbow News Network - Dec 18 2021 4:22AM

अवनीश कुुमार श्रीवास्तव, डीपीआरओ

अम्बेडकरनगर। प्रदेश सरकार द्वारा मानदेय व भत्ता बढ़ाए जाने का सीधा लाभ 13 हजार 30 पंचायत प्रतिनिधियों को मिलेगा। वहीं पंचायत प्रतिनिधि के निधन पर आर्थिक मदद के लिए पंचायत कल्याण कोष स्थापना की प्रक्रिया जिले में तेज हो गई है। दिसंबर के अंत तक पंचायत कल्याण कोष की स्थापना कर उसका संचालन शुरू कर दिया जाएगा। इस बीच पंचायत कल्याण कोष की स्थापना करने व मानदेय वृद्धि का पंचायत प्रतिनिधियों ने बढ़ चढ़कर स्वागत किया है।

इस बावत जानकारी देते हुए जिला पंचायत राज अधिकारी अवनीश कुुमार श्रीवास्तव ने बताया कि बीते दिनों राज्य सरकार के फैसले का लाभ जिले के 13 हजार 30 पंचायत प्रतिनिधियों को मिलने जा रहा है। 73वें संविधान संशोधन के अनुसार न सिर्फ पंचायत कल्याण कोष की स्थापना होगी बल्कि पंचायत प्रतिनिधियों का मानदेय भी बढ़ाया गया है। उन्होंने बताया कि जिले में एक जिला पंचायत अध्यक्ष के अलावा 40 जिला पंचायत सदस्य, 902 ग्राम प्रधान, 9 ब्लॉक प्रमुख, 1020 क्षेत्र पंचायत सदस्य व 11 हजार 58 ग्राम पंचायत सदस्य हैं।

इनके मानदेय व भत्ते में बढ़ोत्तरी की गई है। तय हुआ है कि यदि पद पर रहते हुए किसी पंचायत प्रतिनिधि का आकस्मिक निधन होता है, तो जिला पंचायत अध्यक्ष, ग्राम प्रधान व ब्लॉक प्रमुख के परिवारीजनों को 10-10 लाख रुपये अहेतुक सहायता राशि दी जाएगी।डीपीआरओ श्रीवास्तव ने बताया कि इसके अलावा जिला पंचायत सदस्य के परिजनों को 5 लाख रुपये, सदस्य क्षेत्र पंचायत के परिजनों को 3 लाख रुपये व ग्राम पंचायत सदस्य के परिजनों को 2 लाख रुपये दिए जाएंगे। इस बीच पंचायत कल्याण कोष की स्थापना किए जाने व मानदेय वृद्धि की जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने बढ़ चढ़कर सराहना की है।

डीपीआरओ ने कहा कि संशोधन के प्राविधान के बाद अब ग्राम पंचायत की बैठकों में भी पंचायत प्रतिनिधियों की भागीदारी बढ़ेगी। दरअसल पूर्व में जब कोई भत्ता नहीं मिलता था, तो अक्सर ग्राम पंचायत की बैठक में सभी सदस्य नहीं आते थे। इससे कभी कभी तो कोरम पूरा न होने पर बैठक को ही टाल दिया जाता था। अब जबकि बैठक में भाग लेने वाले पंचायत सदस्यों को प्रति बैठक भत्ते के रूप में 100 रुपये मिलेंगे, तो ऐसे में पंचायत सदस्यों की भागीदारी में वृद्धि होने की पूरी उम्मीद है।

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि नए निर्णय में पंचायत प्रतिनिधियों के चेहरे पर खुशी ला दी है। दरअसल संबंधित पंचायत प्रतिनिधियों के मानदेय व भत्ते में वृद्धि की गई है। बताया गया कि जिला पंचायत अध्यक्ष को वर्तमान मानदेय 14 हजार से बढ़ाकर 15 हजार 500 रुपये, ब्लॉक प्रमुख को 9800 से बढ़ाकर 11300, ग्राम प्रधान को 3500 से बढ़कर 5 हजार रुपये, तो वहीं सदस्य जिला पंचायत को प्रति बैठक 1 हजार रुपये से बढ़ाकर 1500 रुपये, सदस्य क्षेत्र पंचायत को प्रति बैठक 500 से बढ़कर 1 हजार रुपये का भत्ता मिलेगा। सदस्य ग्राम पंचायत को जहां अब तक कोई भी राशि नहीं मिलती थी, तो वहीं अब प्रति बैठक 100 रुपये का भत्ता दिया जाएगा।



Browse By Tags



Other News