Rainbownews :: कथन -
*  21 अगस्त से 25 सितम्बर तक बन रहा है वर्षा योग : डॉ. दिलीप     *  ठुमके लगाते डीआईजी पर कार्रवाई की मांग     *  महिला के गर्भाशय से 36 साल बाद निकाला गया कंकाल     *  पायल सेठ का मराठी बाला अवतार     *  जेल से रंगदारी वसूली     *  परिवार का समाजवाद.....!!     *  कश्मीर समस्या : इन्हीं लोगों ने ले लीना दुपट्टा मेरा...।     *  आईपीएस अफसर की फुफेरी बहन, अभद्र कॉल मामला : एफआईआर दर्ज     *  कभी झंडा... तो कभी ट्रांजिसटर...!     *  आजादी अभी बाकी है...     *  Happy Independence Day     *  यूपी सरकार द्वारा अमिताभ ठाकुर को सामाजिक संस्था से सम्बद्ध होने से मनाही     *  जिला पंचायत अम्बेडकरनगर : ए.एम.ए. के रूखे व्यवहार से पत्रकार अचंभित     *  अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत नदी में फेंकवा दिया गया शाही पुल का चूड़ी मार्केट    
Rainbow News
Friday 22nd of August 2014 11:23 AM

बस स्टेण्ड पर पार्किंग की व्यवस्था होने से यात्रियों को हो रही सुविधा

Update on : 29 August, 2013, 5:13

शहर के ज्यादा भीड़ वाले इलाकों में होनी चाहिए स्थाई पार्किंग 

सिरोही। समाचार। दिलीप कुमार मीणा। शहर के केन्द्रीय बस स्टेण्ड में पार्किंग होने से यात्रियों के लिए आवागमन में आसानी एवं टू व्हीलर वाहनों की सुरक्षा हो रही है। जहां पर अव्यवस्थित वाहन खड़े होते थे, वे आज पार्किंग होने से व्यवस्थित खड़े हो रहे है। जिससे रोडवेज प्रशासन व आमजन को फायदा हो रहा है| पार्किंग यहां पर होने से बस स्टेण्ड का विकास व सुरक्षा होरही है। रोडवेज प्रशासन से अनुबन्धित पार्किंग ठेकेदार रामलाल माली का कहना है कि एक साल पहले यहां पर पार्किंग व्यवस्था  नही थी ,तब बस स्टेण्ड के बाहर की जगह पर गंदगी थी। पर अब बस स्टेंड के बाहर की जगह देख लिही हो तो अलग अंदाज में ही नजर आयेगी व अति सुन्दर दिखेगी। पहले तो यात्री अपनी मर्जी के अनुसार बस स्टेंड में खी पर भी वाहन  खड़े करके चले जाते थे। जिससे बस स्टेंड का आवागमन मार्ग में यात्रियों व बस में बाधा आती थी। परन्तु अब ठेका लेने  से आसानी हो रही है।पार्किंग होने से सरकारी बसों की भी सुरक्षा होती है। यात्रियों के वाहनों की 24 घन्टे निगरानी रखी जारही है । शहर में ज्यादा भीड़ वाले इलाकों में स्थाई पार्किंग होनी चाहिए। भीड़-भाड वाले इलाकों में पार्किंग होंने से बाजारों में आने-जाने के लिये आसानी होती है और वाहनों की सुरक्षा होती है। पार्किंग का ठेका देने या विज्ञप्ति जारी होने से नगर निकाय को भी राजस्व का फायदा होता है। बेतरीब ढंग से आम सडकों के बीच खड़े होते वाहनों के खिलाफ जुर्माना राशि लेनी चाहिए। बाजारों में सड़क के बीचों बिच व अव्यवस्थित तरीके से खड़े वाहनों पर प्रशासन को जुर्माना लेना या चालान काटना चाहिए। ताकि सड़क अवरुद्द न हो एवं बाजारों में आवागमन की समस्या दूर हो सकती है।       

Tags :

Web Title :