मोदी सरकार पर भड़के CM नीतीश कुमार

सीएम नीतीश कुमार इन दिनों केंद्र की राजनीति को लेकर चर्चा में हैं. नीतीश कुमार ने एक बार फिर केंद्र पर भेद भाव का आरोप लगाया है.






महागठबंधन में शामिल होने के बाद सीएम नीतीश कुमार लगातार केंद्र सरकार पर हमला बोल रहे हैं. एक बार फिर उन्होंने बुधवार को केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि गरीब राज्यों पर केंद्र सरकार ध्यान नहीं देती है. केंद्र को सबसे पहले पिछड़े राज्यों के विकास के लिए कार्य करने चाहिए, लेकिन केंद्र सरकार ने कर्जा पर भी रोक लगा रखी है. इससे विकास कार्य प्रभावित हो रहा है. इससे पहले कोई भी केंद्र सरकार ने इतना ज्यादा हस्तक्षेप नहीं की थी. 


नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार के विकास के लिए तो केंद्र से मांग तो शुरू कर रहे हैं लेकिन केंद्र से मदद नहीं मिल रही है. एनडीए में साथ होने के बाद भी केंद्र से मदद नहीं मिलती थी. इसके बाद भी राज्य सरकार विकास के लिए खुद से प्रयास कर रही है. केंद्र से मदद मिलती तो राज्य में विकास कार्य तेजी से होता. केंद्र गरीब राज्यों को मदद करने वाली नहीं है. केंद्र सरकार सिर्फ प्रचार-प्रसार पर ध्यान देती है. वहीं, उन्होंने कहा कि बिहार में विकास के लिए तो राज्य सरकार हर संभव प्रयास कर रही है.


रेल बजट के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि रेल बजट अलग होना ही चाहिए. जब रेल बजट संसद भवन में पेश किया जाता था तो संसद में मुख्य बजट से भी ज्यादा रेल बजट पर चर्चा होती थी. अटल बिहारी सरकार की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान मोदी सरकार अटल बिहारी सरकार में किए कार्यों की जानकारी नहीं देती है सिर्फ खुद का ही बखान करती है. अटल बिहारी सरकार में रेलवे में बहुत काम किया गया था.

Post a Comment

أحدث أقدم